Home tech how to Cricket Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017 shop more
माँ में तेरी सोनचिरैया | WRITTEN BY MRS PRABHA PANDEY 2YODOINDIA POETRY

|| बेटी तू अपना संसार बना | BETI TU APNA SANSAR BANA ||

बेटी तू अपना संसार बना

बेटी तू मेहनत से पढ़ लिखकर अपना संसार बना,
अपने दम पर बेटी तू अपने सपने साकार बना ।

तुझको धन दौलत दे पायें हम इतने धनवान नहीं,
रोटी-दाल चले मुश्किल से इससे तुम अन्जान नहीं ।
फीस स्कूल की निश्चित देंगे तू मेहनत आधार बना,
अपने दम पर बेटी तू अपने सपने साकार बना ।

कठिन समय भी आये बेटी हिम्मत कभी हारना ना,
स्वाभिमान भी ऊँचा रखना नीची नजर गाड़ना ना ।
दृढ़ संकल्प और इच्छाशक्ति को अपना आहार बना,
अपने दम पर बेटी तू अपने सपने साकार बना ।

साधारण से साधारण लोगों को बढ़ते देखा है,
मेहनत की सीढ़ी से सफल आकाश पकड़ते देखा है ।
आशीर्वाद हमारा संग है तू अपना गुलजार बना,
अपने दम पर बेटी तू अपने सपने साकार बना ।

लेखिका
श्रीमती प्रभा पांडेय जी
” पुरनम “

FOR MORE POETRY BY PRABHA JI VISIT माँ में तेरी सोनचिरैया

READ MORE POETRY BY PRABHA JI CLICK HERE

DOWNLOAD OUR APP CLICK HERE

ALSO READ  || प्रदूषित वातावरण ||
Share your love

Leave a Reply

Your email address will not be published.