More
    36.1 C
    Delhi
    Monday, May 27, 2024
    More

      || मोती हैं बेटियां | MOTI HAI BETIYAN ||

      मोती हैं बेटियां

      गर होते हैं हीरे बेटे तो,
      मोती हैं बेटियां ।
      खुशनसीब है वो घर जिस घर,
      होती हैं बेटियां ।

      बेटें हैं गर वंशज तो,
      वंशबीज बोती हैं बेटियां ।

      माँ बाप का ही जिस्मो-जिगर,
      होती हैं बेटियां ।

      कौन कहता है बड़े हैं बेटे और
      छोटी हैं बेटियां ।

      घर आंगन का धर्म कर्म
      संजोती हैं बेटियां ।

      बदनसीब है वो घर जिसकी
      रोती हैं बेटियां ।

      लेखिका
      श्रीमती प्रभा पांडेय जी
      ” पुरनम “

      READ MORE POETRY BY PRABHA JI CLICK HERE

      DOWNLOAD OUR APP CLICK HERE

      ALSO READ  || बच्चो को बतला सकते हैं ||

      Related Articles

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      Stay Connected

      18,844FansLike
      80FollowersFollow
      721SubscribersSubscribe
      - Advertisement -

      Latest Articles